सीतापुर खेलकूद प्रतियोगिता एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम मेजर ध्यानचन्द्र स्टेडियम, सीतापुर में आयोजित किया गया


सीतापुर दिनांक 03 दिसम्बर, 2022 को अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांगजन दिवस पर समेकित शिक्षा के अर्न्तगत विशिष्ट आवश्यकता वाले बच्चों (दिव्यांग जनों) के उत्साहवर्धन हेतु के सुअवसर पर जनपद स्तर पर समेकित शिक्षा एवं साईट सेवर्स इण्डिया के सहयोग से स्थानीय मेजर ध्यान चन्द स्टेडियम, सीतापुर खेलकूद प्रतियोगिता एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम मेजर ध्यानचन्द्र स्टेडियम, सीतापुर में आयोजित किया गया।

सर्वप्रथम अतिथियों को बैज लगाकर उनका स्वागत किया गया व जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अजीत कुमार द्वारा दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया। तदोपरान्त गौरी बाल विद्या मन्दिर, रोटी गोदाम के बच्चों ने सरस्वती वन्दना प्रस्तुत कर सभी दर्शकों का मन मोह लिया, उसके बाद मिशन जूनियर हाईस्कूल के बच्चों द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों के लिये स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। सर्वप्रथम जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी महोदय द्वारा मन्द बुद्धि बालकों की 50 मीटर की केला दौड़ करायी व क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर रहे बच्चों क्रमशः अनीस, प्रा०वि० देवीपुर व रेहान, प्रा०वि० देवीपुर विकास खण्ड-सिंधौली को मेडल व पुरस्कार का वितरण किया व अस्थि विकलांग बालकों की 100 मीटर की रेस में क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर रहे बच्चों कमशः अनुज कुमार-लहरपुर, परवेज-हरगाँव व फजल-बिसवाँ को मेडल व पुरस्कार का वितरण किया। तदुपरान्त अन्य प्रकार के विभिन्न 28 प्रकार के खेलों (माचिस में तीली भरना, मयूजिकल चेयर दौड़ (HI), कला प्रतियोगिता (MR), 200 मी0 दौड़ बालिका (HI), कला प्रतियोगिता (HI), 100 मी दौड़ बालिका (HI), मयूजिकल चेयर दौड़ (MR), 50 मी0 दौड़ (LV), 50 मी0 मेकअप दौड़ (HI), 50 मी0 बैलून दौड़ (HI), 50 मी0 जलेबी दौड़ (MR), सुलेख प्रतियोगिता (OH&HI) सहित अन्य विभिन्न खेल) का आयोजन कर सभी प्रथम, द्वितीय व तृतीय विजेता बालक व बालिका को गेडल व पुरस्कार व आयोजन में आये अन्य सभी को सान्त्वना पुरस्कार का वितरण किया गया। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अजीत कुमार ने बताया कि प्रत्येक वर्ष 03 दिसम्बर के दिन अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर दिव्यांग व्यक्तियों का अंतरराष्ट्रीय दिवस मनाया जाता है। वर्ष 1992 से इस दिन को अंतर्राष्ट्रीय रीति रिवीज के रूप में प्रचारित किया जा रहा है। अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस को 1992 से पूरी दुनिया में ढेर सारी सफलता के साथ हर साल लगातार मनाया जा रहा है। इस दिन को मनाने का उद्देश्य समाज में उनके आत्म-सम्मान, लोक-कल्याण और सुरक्षा की प्राप्ति के लिये दिव्यांगजनों की सहायता करते हुये आत्मनिर्भर करना है।

जिला समन्वयक (समेकित शिक्षा), सीतापुर, प्रमोद कुमार गुप्ता ने बताया कि इस दिवस को मनाने का उद्देश्य दिव्यांगों के प्रति समाज की सोंच में बदलाव लाना व विकृत लोगों के साथ ही अन्य परिजनों को उनके अधिकार के लिए जागरूकता फैलाना। इस दिवस को मनाने का एक उद्देश्य और है के उनके प्रति करुणा आत्मसम्मान और जीवन को बेहतर बनाने का समर्थन और सहयोग दोनों करना। विश्व दिव्यांग दिवस पर वर्ष 2022 की थीम समावेशी विकास के लिये परिवर्तनकारी समाधान एक सुलभ और न्यायसंगत दुनिया में बढ़ावा देने में नवाचार की भूमिका है। इसके तहत समाज में दिव्यांग लोगों के प्रति सहानुभूति तो होगी साथी उन्हें जीवन में हर कार्य में बराबर अवसर व अधिकार के प्रति सामान्य नागरिकों को जागरूक करना साथ ही सामाजिक आर्थिक स्थिति को सुधारने पर ध्यान केंद्रित कर सकेंगे।

आज के कार्यक्रम में उक्त के अतिरिक्त अपूर्व दीक्षित, मण्डल अध्यक्ष, जूनियर शिक्षक संघ, मनीष पाण्डेय, प्रान्तीय प्रवक्ता, जूनियर शिक्षक संघ, रवीन्द्र दीक्षित व सुरेन्द्र गुप्ता, जिलाध्यक्ष, प्राथिमक शिक्षक संघ, मो० खुशतर रहमान, आराध्य शुक्ल, नवीन श्रीवास्तव, पवन सिंह, राकेश सिंह व जनपद के समस्त स्पेशल एजूकेटर व अन्य सहयोगी साथीगण उपस्थित रहे।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, सीतापुर उपस्थित रहे साथ ही खण्ड शिक्षा अधिकारी, जिला मुख्यालय, रमाकान्त मौर्या जी व जिला समन्वयक (समेकित शिक्षा), सीतापुर, प्रमोद कुमार गुप्ता व सहयोगी साईट सेवर्स इण्डिया की जिला प्रोजेक्ट समन्वयक आराधना सिंह भदौरिया सहित जिला जिला व्यायाम शिक्षक राज शर्मा उपस्थित रहे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें