*महाशिवरात्रि के पूर्व से ही सजने लगा विख्यात मेढक मन्दिर* *मण्डूक तंत्र पर आधारित है मेढक मन्दिर।*

*ओयल खीरी – नगर क्षेत्र के ह्रदय स्थल में स्थित अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त मण्डूक तंत्र पर बना* (शिवालय) मेढक मन्दिर वर्तमान समय में महाशिवरात्रि पर्व के करीब आने को लेकर शिव भक्तों की आस्था के प्रति बढ़ती उत्सुकता का केंद्र बनता चला जा रहा है।इस मन्दिर के व्यवस्था देख रहे प्रबन्ध तंत्र के द्वारा मन्दिर को श्रद्धालुओं के आकर्षण का प्रमुख केंद्र बनाने के लिए सजाने सवारने का कार्य कराया जा रहा है। मन्दिर में दर्शनार्थ आने वाले शिव भक्तों को सजाने सवारने के कार्य में लगे लोगो के द्वारा मन्दिर के महिमामयी महत्व के विषय में विवेकानुसार सत्यापित करने का प्रयास किया जा रहा है जबकि मन्दिर के पुजारी एवं बागवान तथा अन्य निकटतम कार्यकर्ताओ के द्वारा जन आकांक्षाओ की मिल रही प्रतिक्रियाओं के अनुसार संसोधन भी करने का काम किया जा रहा है।मन्दिर के अंदर स्थापित प्रमुख रूप से चर्चित रंग बदलता शिवलिंग एवं खड़ी नन्दीश्वर व काल भैरव की मूर्तियां विशेष रूप से जन आकर्षण का केंद्र बनानी की दिशा में भी यथासंभव प्रयास किया जा रहा है।आलोचकों के द्वारा इस मंदिर की जन चर्चाएं समाज में विभिन्न उदाहरणों की प्राथमिकता के साथ की जा रही है।अतीत से लेकर वर्तमान तक मन्दिर की निगरानी कर रहे मीडिया तंत्र के द्वारा भी मन्दिर को शिवरात्रि के अवसर पर प्रमुख आकर्षण केंद्र के रूप में दर्शाने के लिए अपने अपने विवेकानुसार प्रयास कर रहे हैं।18 वी सदी के अंतिम दशक में तत्कालिक राजा बक्श बहादुर सिंह के द्वारा निर्मित कराई गई इस संरचना को वर्तमान समय में अत्यंत आकर्षक स्वरूप देने का काम निरन्तर कराया जा रहा है।जनचर्चाओ के अनुसार इस वर्ष का महाशिवरात्रि पूजन विगत वर्षों से बेहतर प्रस्तुत करने का प्रयास निरन्तर जारी है, पुलिस प्रशासन भी महाशिवरात्रि पर्व को लेकर पूर्व से ही सक्रिय नज़र आ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: