कोरोनावायरस मामले में हेल्थ एक्सपर्ट में कहीं यह बात

Covid 19 Cases Rise: दिल्ली-एनसीआर समेत देश के कई राज्यों में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले लोगों के लिए चिंता का विषय बन चुकी है. दिल्ली में बीते 24 घंटे में 366 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं.दिल्ली में नए मामलों की संख्या 41 फीसदी तक बढ़ चुकी हैं. वहीं दिल्ली एनसीआर के स्कूलों में भी कोरोना संक्रमण के मामले सामने आने लगे हैं. दिल्ली व नोएडा के कुछ स्कूलों में कई बच्चे व शिक्षक कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर की मानें तो भारत में कोरोना की चौथी लहर आने की संभावना नहीं है.

 

SIR मॉडल के आधार पर प्रोफेसर राजेश रंजन ने कहा कि कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ेंगे. ऐसा जहां भी होगा. वहां कुछ दिनों तक केस बढ़ेंगे इसके बाद कोरोना के मामलों में गिरावट शुरू हो जाएगी. बायोमेडिकल वैज्ञानिक डॉ. गगनदीप कांग ने कहा कि अबतक यह पता नहीं चला है कि किस वेरिएंट के कारण कोरोना संक्रमण के मामलों में वृद्धि हो रही है.

 

यह वायरस का कमजोर रूप है, इसलिए अभिभावकों को बच्चों के संक्रमित होने पर परेशान नहीं होना चाहिए. गगनदीप ने ह भी कहा है कि दूसरी डोज और तीसरी यानी बूस्टर डोज के बीच 9 महीने के गैप का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है. वैक्सीन को चकमा दे सकता है नया वेरिएं प्रोफेसर राजेश रंजन की मानें तो आईआईटी द्वारा की गई अबतक की स्टडी में यह साफ पता चला है कि ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट एकसई और बीए.2 में कोरोना वैक्सीन से पैदा हुई इम्युनिटी को चकमा देने की क्षमता है. उन्होंने कहा कि एक बात तय है कि इस वायरस से संक्रमण बुत हल्का होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: