उप्र सरकार श्रमिकों को मई दिवस पर तीर्थ यात्रा कराएगी, जाने खास खबर

उप्र सरकार श्रमिकों को मई दिवस पर तीर्थ यात्रा कराएगी। उप्र श्रम कल्याण परिषद की 84वीं बैठक में श्रम कल्याण परिषद के अध्यक्ष सुनील भराला ने अधिकारियों को इसकी तैयारी के निर्देश दिए हैं।

 

बापू भवन सचिवालय में बुधवार को उत्तर प्रदेश श्रम कल्याण परिषद की बैठक में श्रम कल्याण परिषद के अध्यक्ष भराला ने कहा कि परिषद को गतिशील बनाने एवं श्रमिकों के कल्याण के लिए परिषद के तहत संचालित योजनाओं के प्रचार-प्रसार के उद्देश्य से प्रदेश के प्रत्येक मण्डल एवं जिला स्तर पर बोर्ड के सदस्य के स्तर पर समीक्षा की जाए। ताकि योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक श्रमिक परिवारों को दिलाया जा सके।

 

भराला ने सचल चिकित्सा वाहनों के क्रय एवं संचालन और स्वास्थ्य शिविरों के आयोजन के सम्बंध में प्रस्ताव पर चर्चा करते हुए वित्तीय आंकलन रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होंने महिला श्रमिकों को स्वावलम्बी बनाने, उनके जीवन स्तर में सुधार हेतु स्व सुषमा स्वराज महिला सशक्तीकरण श्रमिक महिला कल्याण योजना की रूपरेखा तैयार किये जाने के सम्बंध में गठित समिति की रिपोर्ट शीघ्र प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।

 

श्रमिकों के कल्याणार्थ संचालित योजनाओं में आ रही समस्याओं का त्वरित निवारण के लिए उत्तर प्रदेश श्रम कल्याण परिषद के कार्यालय में उप सचिव के पद पर तैनाती किये जाने के निर्देश उच्च अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा परिषद की श्रवण कुमार श्रमिक परिवार धार्मिक पर्यटन योजना के तहत पात्र श्रमिक परिवारों को श्रमिक दिवस (1 मई, 2022) को तीर्थयात्रा पर भेजने के लिए प्रदेश के प्रत्येक मण्डल से एक बस रवाना की जाए।

 

उन्होंने निर्देश दिए कि प्रदेश में पंजीकृत दुकानों, वाणिज्यिक कारखानों, अधिष्ठानों की वास्तविक आंकड़ा एक सप्ताह में अवगत कराया जाए। इससे अधिक से अधिक संख्या में प्रतिष्ठानों का पंजीकरण कराते हुए श्रमिकों को कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिया जा सके।

 

भराला ने उप्र श्रम कल्याण निधि अधिनियम 1965 में प्रस्तावित संशोधनों एवं परिषद की बैठकों में लिये गये महत्वपूर्ण प्रकरण जो शासन स्तर पर विचाराधीन हैं, के सम्बंध में त्वरित निस्तारण के निर्देश दिये। ताकि संशोधनों का लाभ श्रमिक को शीघ्रता से दिलाया जा सके। उन्होंने श्रमिक पोर्टल पर पात्र श्रमिकों का अधिक से अधिक पंजीकरण कराने के निर्देश दिये। इसके लिए प्रदेश स्तर पर विशेष अभियान भी चलाया जाय।

 

अपर मुख्य सचिव, श्रम सुरेश चन्द्रा ने बैठक में बोर्ड की योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ पात्र श्रमिकों को दिलाने तथा योजनाओं के संचालन में आ रही समस्याओं को शीघ्र दूर करने का आश्वासन दिया। उन्होंने बजट के आधार पर पात्रों को योजनाओं का लाभ दिलाये जाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि श्रमिक कल्याण के लिए संचालित योजनाओं का लाभ मिलने से श्रमिकों का जीवन स्तर ऊंचा उठेगा।

 

बैठक में परिषद के सदस्य कन्हैया लाल भारती, मुरहू राजभर, राधेकृष्ण त्रिपाठी तथा अजीत जैन, अतुल दुबे, विशेष आमंत्रित सदस्य के साथ अपर श्रमायुक्त, उप श्रम आयुक्त उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: