आरबीआई ने बदले एफडी के नियम, जाने यहां

सावधि जमा (एफडी) में निवेश करके भूल जाते हैं तो अब आपको बड़ा झटका लगने वाला है। रिजर्व बैंक ने एफडी के नियमों में बदलाव किया है, जिसमें परिपक्वता के बाद राशि रखने पर कम ब्याज मिलेगा।जबकि मौजूदा समय में परिपक्वता के बाद राशि नहीं निकालने पर अगली अवधि के लिए एफडी अपडेट हो जाती है। इसी तरह क्रेडिट कार्ड पर भी कंपनियां शुक्ल बढ़ाने की तैयारी में हैं जो आपकी जेब हल्की करेगी। यहां हम आपको 2 जानकारी दे रहे हैं जो आपके निवेश पर असर डाल सकती हैं।

 

एफडी पर बचत खाते का ब्याज

 

आरबीआई ने एफडी के नियम में एक बड़ा बदलाव किया है। इसके तहत अब परिपक्वता के बाद अगर आप राशि नहीं निकालते हैं तो आपको इस पर बचत खाते पर मिलने वाला ​ब्याज मिलेगा जो घाटे का सौदा होगा। मौजूदा समय में बैंक लंबी अवधि की एफडी पांच फीसदी से से ज्यादा ब्याज दे रहे हैं। जबकि बचत खाते पर ब्याज दरें तीन से चार फीसदी के करीब हैं। यह नया नियम सभी वाणिज्यिक बैंकों, स्मॉल फाइनेंस बैंक, सहकारी बैंक, स्थानीय क्षेत्रीय बैंकों में जमा पर लागू होंगे।

 

क्रेडिट कार्ड शुल्क बढ़ेगा

 

जल्द ही क्रेडिट कार्ड उपयोग करना और महंगा पड़ सकता है। वीजा और मास्टरकार्ड क्रेडिट कार्ड उपयोग करने पर व्यापारियों द्वारा भुगतान की जाने वाली फीस बढ़ाने की तैयारी कर रही हैं। इसका असर उपभोक्ताओं पर पड़ेगा। इस मामले से जुड़े सूत्रों के अनुसार, शुल्क में वृद्धि – महामारी के कारण पिछले दो वर्षों के दौरान टाल दी गयी थी, यह अगले महीने शुरू होने वाली है।

 

इसमें कहा गया है कि इंटरचेंज फीस में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी हुई है। व्यापारी इन शुल्कों का भुगतान करते हैं, जो कार्ड नेटवर्क द्वारा निर्धारित किए जाते हैं, जब खरीदार अपने कार्ड का उपयोग करते हैं। शुल्क उस बैंक को जाता है जिसने कार्ड जारी किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: