आयुष्मान कार्ड बनाने में महोली सीएचसी ने मारी बाजी*

*आयुष्मान कार्ड बनाने में महोली सीएचसी ने मारी बाजी*

*कार्डधारक को मिलता है पांच लाख रुपए का सालाना मुफ्त इलाज*

सीतापुर केंद्र सरकार की महत्वकांक्षी योजना आयुष्मान भारत योजना के तहत पात्र लोगों के आयुष्मान कार्ड (गोल्डन कार्ड) बनाने में महोली ब्लॉक ने पूरे जिले में बाजी मारी है। शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों के पात्र लाभार्थियों के कार्ड बनाने के मामले में महोली ब्लॉक पहले स्थान पर है। यहां के ग्रामीण क्षेत्र के 34.78 प्रतिशत और शहरी क्षेत्र के 37.54 प्रतिशत पात्र लाभार्थियों के आयुष्मान कार्ड बनाए जा चुके हैं। बात अगर जिले की करें तो जिले भर में अभी तक 22.23 प्रतिशत लाभार्थियों के आयुष्मान कार्ड बन चुके हैं। इनमें से 22.13 प्रतिशत ग्रामीण और 23.06 प्रतिशत शहरी लाभार्थियों को यह कार्ड उपलब्ध हो गए हैं।

*यह है ब्लॉकवार स्थिति*

ग्रामीण क्षेत्र के लाभार्थियों के आयुष्मान कार्ड बनाने के मामले में मछरेहटा दूसरे और पहला ब्लॉक तीसरे स्थान पर है। मछरेहटा में 29.86 और पहला में 29.19 प्रतिशत 34.78 कार्ड बन गए हैं। इसी तरह एलिया में 29.07, हरगांव में 24.87, खैराबाद में 24.24, महमूदाबाद में 23.68, पिसावां में 23.35, लहरपुर में 23.13, कसमंडा में 22.54, सिधौली में 13.96, मिश्रिख में 20.86, बिसवां में 20.44, परसेंडी में 20.37, गोंदलामऊ में 19.00, बेहटा में 18.90, रामपुर मथुरा में 15.23, सकरन में 14.66 और रेउसा में ब्लॉक में 12.37 प्रतिशत ग्रामीणों को ही यह कार्ड उपलब्ध हो सके हैं।

*यह है निकायवार स्थिति*

ग्रामीण लाभार्थियों की ही तरह शहरी लाभार्थियों के आयुष्मान कार्ड धारकों के मामले में महोली नगर पंचायत पहले स्थान पर है। नगर पालिका परिषद लहरपुर के 30.21 प्रतिशत और सीतापुर नगर पालिका परिषद में 25.19 प्रतिशत आयुष्मान कार्ड बन गए हैं। यह दोनों निकाय क्रमशरू दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं। इसके अलावा तंबौर नगर पंचायत के 23.14, मिश्रिख नगर पालिका परिषद के 23.12, सिधौली नगर पंचायत के 22.77, हरगांव नगर पंचायत के 19.04, महमूदाबाद नगर पालिका परिषद के 18.52, खैराबाद नगर पालिका परिषद के 17.75, बिसवां नगर पालिका परिषद के 17.24 और पैंतेपुर नगर पंचायत के 14.65 प्रतिशत शहरी लाभार्थियों के आयुष्मान कार्ड बन गए हैं।

*क्या कहती हैं सीएमओ*

सीएमओ डॉ0 मधु गैरोला ने बताया कि आयुष्मान भारत योजना के तहत बनने वाले आयुष्मान कार्ड के माध्यम से गरीबी रेख से नीचे जीवन यापन करने वाले लोगों को प्रति साल पांच लाख रुपये तक का निःशुल्क उपचार किया जाता है। इस कार्ड के माध्यम से देश भर के सरकारी अस्पतालों के साथ ही कुछ चिन्हित निजी अस्पतालों में भी निःशुल्क उपचार कराया जा सकता है। जिले में अभियान चलाकर पात्र लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाए जा रहे हैं।

*क्या कहते हैं लाभार्थी*

गोंदलामऊ ब्लॉक के सूरजपुर गांव निवासी संतोष बताते हैं कि एक सड़क हादसे में उनके दाहिनें पैर की एक हड्डी टूट गई थी। आयुष्मान कार्ड के माध्यम से शहर के एक निजी अस्पताल में उनके पैर का निरूशुल्क ऑपरेशन हुआ, जिसके बाद अब वह पूरी तरह स्वस्थ्य हैं। पिसावां ब्लॉक के बरगांवा गांव निवासी राम नरेश गुप्ता बताते हैं कि 75 वर्ष की उम्र में उन्हें मोतियाबिंद की समस्या हो गई, जिस पर उन्होंने शहर के एक निजी अस्पताल में अपनी आंखों का ऑपरेशन कराया और अब वह पूरी तरह से स्वस्थ्य हैं और आसानी से देख सकते हैं।

*इन अस्पतालों में मिल रहा लाभ*

जिला चिकित्सालय और जिला महिला चिकित्सालय सहित जिले के सभी 19 ब्लॉक सीएचसी पर आयुष्मान कार्ड से मुफ्त इलाज होता है। इसके अलावा सीतापुर आंख अस्पताल सहित रेखा दृष्टि केयर, सेठी हॉस्पिटल, प्रगति नर्सिंग होम, बी0सी0एम0 हॉस्पिटल खैराबाद, हिन्द मेडिकल कॉलेज अटरिया, आईकॉन हॉस्पिटल लहरपुर और सक्षम नर्सिंग होम में आयुष्मान कार्ड से मुफ्त इलाज होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: