100वें टेस्ट पर कोहली को खास गिफ्ट देना चाहती है टीम इंडिया, जाने खास बाते

भारत और श्रीलंका के बीच चार मार्च से दो टेस्ट मैचों की सीरीज की शुरुआत होगी। पहला टेस्ट मोहाली में खेला जाएगा। यह विराट कोहली के टेस्ट करियर का 100वां मैच भी होगा। टीम इंडिया इस मैच को विराट के लिए खास बनाना चाहती है। भारतीय टीम के उपकप्तान जसप्रीत ने कहा है कि यह  उपलब्धि विराट कोहली की कड़ी मेहनत और समर्पण का प्रमाण है।

बुमराह ने 2018 में कोहली की कप्तानी में डेब्यू किया
बुमराह ने 2018 में कोहली की कप्तानी में ही टेस्ट डेब्यू किया था। हालांकि, अब हालात बदल चुके हैं। रोहित टेस्ट टीम के नए कप्तान हैं, वहीं बुमराह उपकप्तान। टेस्ट से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में बुमराह ने कहा- देश के लिये 100 टेस्ट मैच खेलना खास होता है। विराट ने टीम इंडिया की सफलता में काफी योगदान दिया है और भविष्य में भी ऐसा करते रहेंगे।

कोहली को खास गिफ्ट देना चाहती है टीम इंडिया
कोहली को इस खास अवसर पर गिफ्ट देने को लेकर बुमराह ने कहा- अगर भारतीय टीम जीत दर्ज करती है, तो इससे बढ़कर कोहली के लिए कोई तोहफा नहीं होगा। कोहली को एक क्रिकेटर के रूप में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना पसंद है। हालांकि, मोहाली में दर्शकों को स्टेडियम में आने की अनुमति नहीं मिलने को लेकर बुमराह निराश हैं।

दर्शकों के नहीं आने से निराश हैं जसप्रीत बुमराह
इस बारे में बुमराह ने कहा- हम फिलहाल सिर्फ उस चीज पर ध्यान दे रहे हैं जो हमारे नियंत्रण में है। अगर दर्शक आते तो हमारा हौसला बढ़ता लेकिन, यह ऐसी हम नियम तय नहीं करते। बेंगलुरु में दूसरे टेस्ट के लिए कर्नाटक स्टेट क्रिकेट एसोसिएशन ने 50 प्रतिशत दर्शकों को स्टेडियम आने की अनुमति दी है। यह मैच 12 मार्च से बेंगलुरु के एन चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा। यह एक डे-नाइट मैच भी होगा।
अश्विन की फिटनेस को लेकर कही ये बात
ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की फिटनेस को लेकर बुमराह ने कहा- प्रैक्टिस के दौरान ऑफ स्पिनर पूरी रह फिट दिखे। वह बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग तीनों कर रहे हैं। श्रीलंका के पहले टेस्ट के लिए वह पूरी तरह तैयार दिख रहे हैं। अश्विन भारत के लिए पिछली बार दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जनवरी में खेले थे। इसे बाद उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे और टी-20 सीरीज और श्रीलंका के खिलाफ टी-20 सीरीज में आराम दिया गया था।

इसलिए जश्न नहीं मनाते हैं जसप्रीत बुमराह
विकेट लेने के बाद बुमराह कोई खास अंदाज में जश्न नहीं मनाते हैं। इसको लेकर बुमराह ने कहा- बचपन में मैं विकेट को काफी सेलिब्रेट करता था। मैं तब अपने सेलिब्रेशन को प्लान भी करता था। हालांकि, अब जब में इस लेवल पर खेल रहा हूं, तो मेरा ध्यान बस अपने काम पर होता है। जब टीम जीतती है, तभी मैं जश्न मनाता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: