बबेरू विधानसभा चुनाव का सरगर्मी हुई तेज मतदाता प्रत्याशियों पर लगा रहे अटकलें

बाँदा:- उत्तर प्रदेश के विधानसभा के चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे वैसे ही मतदाता सभी प्रत्याशियों पर अटकलें लगाना शुरु हो गया है। क्योंकि भारतीय जनता पार्टी और समाजवादी पार्टी बबेरू विधानसभा से अभी प्रत्याशी की घोषणा नहीं किया है। वही बहुजन समाज पार्टी ने बबेरू विधानसभा से रामसेवक शुक्ला को प्रत्याशी बनाया है, और बबेरू विधानसभा में लगातार तीन पंचवर्षीय से बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी को हार का सामना देखना पड़ा है। वही बबेरू विधानसभा से लगातार दो बार 2007 व 2012 में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी विशंभर सिंह यादव ने जीत दर्ज किया है। वहीं भारतीय जनता पार्टी से 2017 में चंद्रपाल कुशवाहा को जीत मिली थी, 2022 के विधानसभा के चुनाव पर यहां के मतदाता अलग-अलग अटकलें लगा रहे, क्योंकि बबेरू विधानसभा में अनुसूचित जाति, बिरादरी एवं यादव व पटेल बिरादरी का सर्वाधिक मतदाता है। जिसमें लगभग 45000 पटेल अनुसूचित जाति 80000, और यादव बिरादरी का लगभग 55000 के साथ-साथ ब्राह्मण लगभग 14000 मतदाता शामिल है। जिसमें भाजपा से वर्तमान विधायक चंद्रपाल कुशवाहा एवं विजय विक्रम सिंह टिकट के रेस में है। वही समाजवादी पार्टी से पूर्व विधायक विशंभर सिंह यादव एवं किरन यादव रेस में है। और बहुजन समाज पार्टी से रामसेवक शुक्ला, व अरुण सिंह पटेल ने टिकट मांगा था। जिसमें पार्टी के द्वारा रामसेवक शुक्ला को प्रत्याशी बनाया गया हैं। जिससे अनुसूचित जाति के मतदाता बहुजन समाज पार्टी में प्रत्याशी ठीक ना होने के कारण दूसरी पार्टी में मतदान करने की अलग-अलग चर्चा कर रहे हैं। बहुजन समाज पार्टी लगातार तीन पंचवर्षीय से हार का मुंह देखना पड़ा। और इस बार भी लग रहा है कि बहुजन समाज पार्टी की हार पक्की हैं। जिसमें सीधा सीधा मुकाबला भाजपा और सपा के लिए देखा जा सकता है, अगर बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी रामसेवक शुक्ला का टिकट काटकर वर्तमान जिला पंचायत सदस्य अरुण सिंह पटेल पर पार्टी दांव लगाती है, तो बबेरू विधानसभा में बहुजन समाज पार्टी की जीत पक्की हो सकती हैं। क्योकि लगभग 45000 हजार मतदाता पटेल बिरादरी,व 80000 हजार, अनुसूचित जाति के मतदाता एंव कुछ अन्य विरादरी को वोट बहुजन समाज पार्टी मिल सकता हैं। अभी जिला पंचायत के चुनाव पर बांदा जनपद में सर्वाधिक 10000 वोट पाकर अरुण सिंह पटेल जिला पंचायत सदस्य बने, और इस बार बबेरू विधानसभा की जनता बदलाव चाहती है। बबेरू विधानसभा में अलग-अलग चर्चाएं हो रही कि अगर बहुजन समाज पार्टी का टिकट काटकर अरुण सिंह पटेल पर पार्टी दांव लगाती है, तो विपक्षी पार्टियों को टक्कर दे सकती हैं। अब देखना यह होगा की बहुजन समाज पार्टी वही प्रत्याशी रामसेवक शुक्ला पर दांव लगाती है, या तो फिर टिकट बदलकर अरुण सिंह पटेल पर दांव लगाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: