बिजली कटौती के कारण यहां हो रहा लाखों का नुकसान

बिजली कटौती से आम जनता ही परेशान नहीं, कोल्ड स्टोर संचालक भी काफी नुकसान उठा रहे हैं। जिले में कुल 20 कोल्ड स्टोर हैं, इनमें सबसे ज्यादा 11 कोल्ड स्टोर फरीदपुर में हैं।वहीं आंवला में छह और तीन कोल्ड स्टोर सदर तहसील में हैं। बिजली नहीं होने से जिले के सभी कोल्ड स्टोर संचालकों का कुल एक लाख रुपये प्रतिदिन घाटा हो रहा है, यानी महीने का 30 लाख रुपये। ऐसे में बिजली कटौती कोल्ड स्टोर संचालकों को भी परेशान कर रही है।

यूं समझें नुकसान का गणित

उत्तर प्रदेश कोल्ड स्टोरेज एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने बताया कि हर दिन कम से कम 16 घंटे कोल्ड स्टोर चलाना पड़ता है। बिजली कटौती की वजह से सुबह और शाम मिलाकर करीब दो घंटे जेनरेटर चलता है। इस हिसाब से एक कोल्ड स्टोर संचालक को हर दिन चार से साढ़े चार हजार रुपये का अतिरिक्त खर्च होता है। ऐसे में जिले के कुल 20 कोल्ड स्टोरों का कुल नुकसान 80 हजार से एक लाख रुपये तक होता है।

अमूमन बिजली कटौती के समय कोल्ड स्टोर नहीं चलाते। चूंकि प्रतिदिन करीब 16 घंटे कोल्ड स्टोर चलाना होता है, ऐसे में बिजली कटौती के दौरान भी दो से ढाई घंटे जेनरेटर चलाना ही पड़ता है। इससे करीब चार से साढ़े चार हजार का नुकसान प्रतिदिन एक कोल्ड स्टोर संचालक को होता है।

– राजेंद्र गुप्ता, मंडलीय संरक्षक, उप्र कोल्ड स्टोरेज एसोसिएशन। हर दिन तय रोस्टर के हिसाब चार से पांच घंटे बिजली कटौती हो रही है। ऐसे में जिले के ही कोल्ड स्टोर संचालकों को हर महीने करीब 30 लाख रुपये तक नुकसान होता है। बिजली के बढ़े दाम भी परेशानी हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: