अगर गूगल पर ये चीजें सर्च की तो जाना पड़ सकता है जेल

Google एक पॉपुलर सर्च इंजन है और दुनियाभर में करोड़ों लोग इसका इस्तेमाल करते हैं। हमें इंटरनेट पर जब किसी चीज की जानकारी चाहिए होती है तो हम गूगल पर सर्च करते हैं। ज्यादातर लोग अपने सवालों के जवाब के लिए गूगल सर्च पर निर्भर रहते हैं।हालांकि कई बार गूगल पर कुछ चीजें सर्च करना मुसीबत का सबब भी बन सकता है। कुछ ऐसी चीजें हैं, जिनके बारे में गूगल पर सर्च करना आपको जेल की हवा तक खिला सकता है। जानते हैं उन चीजों के बारे में जिनके बारे में गूगल पर भूलकर भी सर्च नहीं करना चाहिए।

 

बम बनाने का तरीका

गूगल पर कभी भी बम बनाने का प्रोसेस सर्च नहीं करना चाहिए। ऐसा करना अपराध है। अगर आप गूगल पर बम बनाने का तरीका सर्च करोगे तो सुरक्षा एजेंसियां इस तरह का सर्च करने पर आपके फोन, कंप्यूटर या लैपटॉप का आईपी एड्रैस ट्रैक कर आपको पड़क सकती हैं। इसके लिए आपको जेल की हवा तक खानी पड़ सकती है।

 

चाइल्ड पोर्नोग्राफी

बता दें कि सरकार ने चाइल्ड पोर्नोग्राफी को लेकर सख्त नियम बनाए हैं। ऐसे में अगर कोई शख्स गूगल पर इस तरह का कुछ सर्च करता है तो पोस्को एक्ट के तहत उस पर कार्रवाई हो सकती है और उसे जेल भी जाना पड़ सकता है। यह अपराध की श्रेणी में आगर्भपात से जुड़ी जानकारी

गलती से भी अगर गूगल पर ये सर्च करते हैं कि गर्भपात कैसे होता है तो बता दें कि ये अपराध है और ऐसे काम में अगर आप लिप्त पाए जाते हैं तो आपको जेल जाना पड़ सकता है। बता दें कि भारत में गर्भपात को लेकर कानून में कड़े प्रावधान किए हैं। ऐसे में बेहतर होगा कि गर्भपात से जुड़ा कोई भी कंटेंट गूगल पर सर्च किया जाए।

 

पाइरेटेड फिल्म

फिल्म पाइरेसी इन दिनों सबसे बड़े अपराधों में से एक है। फिल्म के रीलीज से पहले उसको इंटरनेट पर डाला या किसी फिल्म का पाइरेटेड वर्जन नेट पर लीक करना अपराध की श्रेणी में आता है। इसके अलावा ऑनलाइन पाइरेटेड फिल्म डाउनलोड करना भी गैरकानूनी माना गया है। जिसके लिए सरकार ने कानून में सजा का प्रावधान कर रखा है।ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: