आतंक का पर्याय बना गुलदार आखिरकार हुआ पिंजरे में कैद

 

बिजनौर।नगीना थाना क्षेत्र के ग्राम फतेहपुर स्याली में गुलदार का आतंक छाया हुआ है। जिसके चलते ग्रामीणों ने वन विभाग नगीना के रेंजर प्रदीप कुमार शर्मा से गुलदार को पकड़वाने की मांग की थी ।इसके बाद वन विभाग अधिकारियों ने गंभीरता से लेते हुए डीएफओ बिजनौर अरुण कुमार सिंह तथा उच्च अधिकारियों को जानकारी देने के बाद एक हफ्ते पहले गांव फतेहपुर के कृषक पदम सिंह पुत्र राजवीर सिंह के खेत में पिंजरा लगाकर गुलदार को पकड़ने के लिए बकरी बांध दी थी। पिंजरे पर नजर रखने के लिए रेंजर प्रदीप शर्मा दरोगा धर्मेंद्र सिंह तथा उनके दैनिक कर्मी लाल सिंह को निर्देश दिए गए थे ।बताया जाता है कि सवेरे 5:30 बजे वन दुर्गा धर्मेंद्र सिंह में लाल सिंह प्रतिदिन की तरह ग्रस्त करते हुए जब पदम सिंह के खेत में लगे पिंजरे के पास पहुंचे तो खतरनाक व्यस्क गुलदार को पिंजरे में बंद देखकर वन रेंजर प्रदीप शर्मा को इसकी सूचना दी गई, सूचना मिलते ही प्रदीप शर्मा अपनी टीम के साथ पहुंचे। पिंजरे में बंद गुलदार को पिंजरे सहित गाड़ी में रखकर नगीना कृषि अनुसंधान केंद्र पहुंचाया गया तथा सूचना उच्च अधिकारियों को दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: