अतिक्रमण और जाम से जूझ रही नगर पालिका महमूदाबाद की जनता

 

नैमिष टुडे-अनुज कुमार जैन
महमूदाबाद-सीतापुर।
आज अतिक्रमण हटाओ दूसरे दिन फिर अतिक्रमण कर लेने में माहिर यहां के दुकानदार आम जनता की परेशानियों से कोई सरोकार नही रखते है जबकि नित ई-रिक्शाओं की संख्या में हो रही बढोत्तरी भी इसका एक कारण है। अतिक्रमण और वाहनों की संख्या में हो रहे लगातार इज़ाफ़े के चलते भी शहर के विभिन्न मार्गों पर भयंकर जाम की स्थिति उत्पन्न होती है।
महमूदाबाद के रामपुर मथुरा मार्ग, फतेहपुर मार्ग, सिधौली मार्ग, कोतवाली मार्ग, रामकुण्ड चौराहा, बस स्टॉप चौराहा, चिकमंडी चौराहा, बजाजा मार्ग, रामकुण्ड चौराहे से लेकर संकटा देवी मंदिर मार्ग पर भारी जाम की समस्या रहती है। इस समस्या के कारण वाहन चालको व आम नागरिको को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। यह स्थिति उस समय और विकट हो जाती है जब शहर भर के कई विद्यालयों में छुट्टी एक साथ होती है। विद्यालय के छात्र व छात्राये सायकिल, स्कूटी, मोटरसाइकिल व स्कूल बस से जब निकलते है तब अधिक जाम लगने की स्थिति से लोगों को अनेक समस्यायें उत्पन्न होती है, पैदल निकलने वाले छात्र व छात्राओं के एक साथ झुण्ड में सड़क पर निकलने के कारण भी वाहन चालको को समस्याये उत्पन्न होती है। साथ ही साथ भारी तादात में ई-रिक्शा शहर भर में बेतरतीब ढंग से चलाकर और उचित स्थान से सवारियों को न बैठाकर जहाँ से चाहा वहीं पर रिक्शा खड़ा करके सवारियों को बैठा लेते है और सड़क पर ही अपना रिक्शा खड़ा कर देते है, जिसके कारण भी शहर में यातायात व्यवस्था बद से बदतर बनी हुई है। जाम की वजह के कारक यहाँ के दुकानदार भी है जो सड़क के किनारे बने फुटपाथ पर अपनी दुकान लगा लेते है, कुछ दुकानदार तो सड़क पर भी कब्जा करके दुकान लगाते है, सड़क पर लगाने वाले दुकानदार बजाजा बाज़ार में देखे भी जा सकते है। इन अव्यवस्थाओ के चलते नागरिको व छात्र छात्राओं को विवश होकर सड़क पर ही निकलना पड़ता है, इसलिये भी शहर में लगने वाली भारी जाम की समस्या उत्पन्न हो रही है। ऐसा भी नही है कि स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों व कर्मचारियों को अतिक्रमण दिखाई नही देता है, उन्हें भी दिखाई देता है किन्तु वे जाम की समस्या से जूझ लेते है और समस्या को नज़रअंदाज़ कर देते है। इसलिये अतिक्रमण करने वाले दुकानदार और वाहन चालक बेखौफ होकर बेतरतीब ढंग से अपनी दुकान फुटपाथ पर व वाहन चालक अपना वाहन सड़क पर ही खड़ा कर देते है। रामकुण्ड चौराहे से कोतवाली मार्ग होते हुए रोडवेज बस स्टॉप चौराहे तक अक्सर जाम लगता है। सम्बन्धित अधिकारियों द्वारा यदा कदा अतिक्रमण हटाने के बाद पुनः दुकानदार अवैध रूप से अतिक्रमण करके मार्ग पर कब्जा कर लेते है किन्तु दुबारा किये गए अतिक्रमण की ओर ध्यान न देना और कोई कार्यवाही न करना भी अतिक्रमण और जाम को बढ़ावा देने का मुख्य कारण है। शहर की जाम व अतिक्रमण की व्यवस्था में सुधार कब होगा या नही होगा, यह तो राम भरोसे ही है। इस मामले पर कुछ नागरिको का कहना है कि जिस दिन कोई कड़क और अच्छा प्रशासनिक अधिकारी महमूदाबाद में आएगा तभी इस समस्या से निजात मिल सकती है। शहर व देहात क्षेत्र के तमाम नागरिको ने जाम और अतिक्रमण से मुक्ति दिलाये जाने की मांग अधिकारियों से की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: