भारत की संस्कृति, सभ्यता, त्याग दुनिया के अन्य देशों से करती है अलग- राज्यसभा सांसद सीमा द्विवेदी


 

मेरी माटी मेरा देश कार्यक्रम का उद्देश्य लोगों को देश की मिट्टी से जोड़ते हुए शहीदों की कुर्बानियों को याद करना है- नगर पालिका अध्यक्ष कपिल मुनि उमर वैश्य

मुंगरा बादशाहपुर/जौनपुर /ब्यूरो चीफ /अरुण कुमार दुबे

मुंगरा बादशाहपुर, जौनपुर। मेरी माटी मेरा देश कार्यक्रम के तीसरे चरण में मुंगरा बादशाहपुर नगर पालिका परिसर में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि के रूप में राज्यसभा सांसद सीमा द्विवेदी और विशिष्ट अतिथि के रूप में पूर्व विधायक डॉ सुषमा पटेल उपस्थित हुई। कार्यक्रम का संचालन विशंभर दुबे ने किया। मुख्य वक्ता की कड़ी में कृष्ण गोपाल जायसवाल ने अपने उद्बोधन में शहीदों को याद और नमन करते हुए कहा कि आजादी मांगने से नहीं मिली बल्कि प्राणों की आहुति देने से मिली है जिसमें भगत सिंह, सुखदेव, चंद्रशेखर आजाद, जैसे भारत के वीर सपूतों ने हंसते-हंसते अपने प्राणों की आहुति दी है। इसी कड़ी में भाजपा जिला महामंत्री सुशील मिश्रा ने कहा कि हम आजाद तो हो चुके हैं किंतु मानसिक रूप से आजाद नहीं हुए, क्योंकि जिस देश की भाषा और संस्कृति पर हमला हो वह पूर्ण रूप से आजाद नहीं हो सकता। आज जहां भी देखिए हर जगह अंग्रेजी भाषा लोगों पर हावी है, हमें अपनी मूल भाषा हिंदी को महत्व देना है, इसी के साथ पूर्व विधायक डॉक्टर सुषमा पटेल ने कहा कि देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में मेरी माटी मेरा देश कार्यक्रम अभियान चलाया जा रहा है जिसका उद्देश्य इस देश के शाहिद वीर सपूतों को वीरांगनाओं और स्वतंत्रता सेनानियों के सम्मान में गांव गांव जाकर कलश में हर घर से मिट्टी इकट्ठा कर दिल्ली में कर्तव्य पथ के किनारे अमृत वाटिका उद्यान विकसित करने के लिए किया जाएगा, और फिर जब हमारे आने वाली पीढ़ियां शहीदों के श्रद्धांजलि और सम्मान में बने वाटिका उद्यान में जाएंगे तो उन्हें इस बात पर गर्व होगा कि इस वाटिका को बनाने के लिए हमारे घर और गांव की मिट्टी लाई गई है, मेरी माटी मेरा देश कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित राज्यसभा सांसद सीमा द्विवेदी ने कहा कि शहीदों के सम्मान में दिल्ली में जो उद्यान वाटिका बनेगा वह बहुत ही ऐतिहासिक होगा और जब यह बनकर तैयार होगा तो दिल्ली में बने अब तक के सभी पर्यटक स्थल उसके आगे फीके हो जाएंगे। उद्बोधन समाप्ति पर उपस्थित अतिथियों ने नगर क्षेत्र से कलश में एकत्रित किए हुए चावल को एक में मिलाया और उसे जिले में लेकर जाया जाएगा, और फिर सभी जिले के एकत्रित चावल को प्रदेश उसके बाद सभी प्रदेश के चावल और मिट्टी को राजधानी ले जाया जाएगा, जहां शहीदों के सम्मान और श्रद्धांजलि में उद्यान वाटिका का निर्माण होगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे नगर पालिका अध्यक्ष कपिल मुनि उमरवैश्य ने आए हुए सभी अतिथियों और उपस्थित लोगों को आभार व्यक्त किया, इस अवसर पर मुख्य रूप से भाजपा नेता संतोष मिश्रा, पुष्पा शुक्ला, संतोष गुप्ता, कृष्ण गोपाल जयसवाल, राजीव केसरी, राजकुमार जायसवाल, राजकुमार उमर वैश्य, राहुल दुबे, नीलम गुप्ता, डॉक्टर अर्चना शुक्ला व अन्य लोग उपस्थित रहे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें