दहेज में नहीं मिली भैंस, तो पत्नी को मार डाला

आपने दहेज में कार-बाइक और पैसों की डिमांड के बारे में तो जरूर सुना और पढ़ा होगा। लेकिन बिहार के पूर्वी चंपारण जिले के कुंडवा चैनपुर थाना क्षेत्र के खरूहा गांव में एक पति इसलिए जानवर बन गया क्योंकि उसे दहेज में भैंस नहीं मिली।दहेज लोभियों को भैंस न मिलने की बात इतनी नागवार गुजरी की उन्होंने रविवार रात विवाहिता की चाकू से गोदकर हत्या कर दी। मृतका की पहचान 24 साल की अमृता कुमारी के तौर पर हुई है जो कुंडवा चैनपुर निवासी नन्हक सिंह की पुत्री थी।

 

अमृता की शादी चार वर्ष पूर्व वर्ष 2018 में कुंडवा चैनपुर थाना क्षेत्र के खरूहा निवासी बैद्यनाथ सिह के पुत्र दरोगा सिंह से हुई थी। मृतका अमृता की दो बेटी और एक बेटा है। सभी बच्चे अभी छोटे-छोटे हैं। सुबह किसी पड़ोसी द्वारा सूचना पाकर नन्हक सिंह जब बेटी के ससुराल पहुंचे तो वहां कमरे में बेटी का क्षत-विक्षत शव देखकर उनके पैरों तले की जमीन खिसक गई।

 

वहीं मृतका के बच्चे शव के पास बैठकर रो रहे थे। चाकू से गर्दन और पेट को गोदा गया था। घटना के बाद से ही सभी आरोपी घर छोड़कर फरार हैं। कुंडवा चैनपुर पुलिस घटना की सूचना पाकर घटनास्थल पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घटना की पुष्टि करते हुए थानाध्यक्ष रमण कुमार ने बताया कि मृतका के पिता के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: