श्रीदेवी के साथ बिताए लम्हों की कहानी : जान्हवी कपूर ने किया भावनात्मक रहस्योद्घाटन

 

दिवंगत अभिनेत्री श्रीदेवी की बेटी जान्हवी कपूर भारतीय सिनेजगत की सबसे पॉपुलर यंग एक्ट्रेसेज में से एक हैं। जान्हवी कपूर आने वाले दिनों में कुछ सबसे बड़े बजट की फिल्मों में दिखाई देंगी, जिनमें ‘मिस्टर एंड मिसेज माही’ और बहुप्रतीक्षित जूनियर एनटीआर स्टारर एक्शन एंटरटेनर ‘देवरा पार्ट 1’ शामिल है, जो 5 अप्रैल 2024 को सभी सिनेमाघरों में रिलीज होने जा रही है। पिछले दिनों मुम्बई में आयोजित संगोष्ठी में हिस्सा लिया। इसी इवेंट में एक इमोशनल पल के दौरान जान्हवी कपूर ने अपनी दिवंगत मां और एक्ट्रेस श्रीदेवी के बारे में खुलकर बात की। भारतीय फिल्म जगत में अमिट छाप छोड़ने वाले करियर के साथ श्रीदेवी, जान्हवी के जीवन में एक प्रेरणा और प्रेरक शक्ति बनी हुई हैं।

अपनी पहली फिल्म के बारे में बात करते हुए, जान्हवी ने यह भी कहा “जब मैंने अपनी पहली फिल्म के लिए काम करना शुरू किया, तो मैं इतनी सचेत थी कि मैं उनसे पूरी तरह से अलग हो जाना चाहती थी क्योंकि लोग वैसे भी सोचते थे कि मुझे मेरी पहली फिल्म इसलिए मिली क्योंकि मैं श्रीदेवी की बेटी हूं। मुझे नहीं पता कि मैं किस अलग दुनिया में चली गई थी कि मैनें फैसला किया कि मैं अपनी मां से कोई मदद नहीं लूंगी, मैं अपनी मां की एक्टिंग से बिल्कुल अलग एक्टिंग करूंगी और उन्हें सेट पर न आने के लिए कहा करती थीं। मुझे लगता था कि मुझे एक अनफेयर फायदा मिला है, एक ट्रंप कार्ड। लेकिन अब मुझे लगता है कि मैं उस समय बेवकूफ थी। मैं हूं उनकी बेटी और इस सच्चाई से मैं भाग नहीं सकती। अब जब वह यहां नहीं है तो यह मेरा सबसे बड़ा अफसोस है।”

अपनी माँ श्रीदेवी के साथ बिताए हुए पल की विस्तृत चर्चा करते हुए जान्हवी आगे कहती हैं “मुझे नहीं लगता कि कोई भी ऐसा कर सकता है जो उन्होंने किया, कोई भी उनके जितना बहुमुखी है….. वह जिस लेवल पर काम करती थी, मुझे नहीं लगता कोई उससे कॉम्पटीट कर सकता है.. मुझे तो छोड़ ही दो..। लेकिन आज की पीढ़ी में भी, अभिनेत्रियों की तुलना उनके डांस मूव्स, हर कदम, हर प्रदर्शन से की जाती है… मैं और मेरी बहन, शुरू में बहुत स्ट्रेस में रहते थे और बहुत घबरा जाते थे, इस बोझ से दब जाते थे लेकिन फिर मुझे समझ आने लगा कि मेरी तुलना मम्मा (श्रीदेवी) से की जा रही है, तो यही बेंचमार्क है मुझे लगता है कि इसी बात ने मुझे प्रेरित करना शुरू किया और वास्तव में, माँ ने मुझसे केवल इतना कहा था कि मेरी पहली फिल्म और प्रदर्शन की तुलना उनकी पहली फिल्म से नहीं की जाएगी, इसकी तुलना उनकी आखिरी फिल्म से की जाएगी और उन्होंने मुझसे कहा कि ऐसा प्रेशर मैं अपने दुश्मन के लिए भी नहीं चाहुंगी।”

प्रस्तुति : काली दास पाण्डेय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: