जौनपुर के युवक की वाराणसी में गोली मारकर हत्या


*जौनपुर के युवक की वाराणसी में गोली मारकर हत्या*

 

जौनपुर/ब्यूरो अरुण कुमार दूबे

केराकत थाना क्षेत्र के देवकली गांव के एक युवक की बदमाशो ने वाराणसी में गोली मारकर हत्या कर दी तथा उसका साथी बुरी तरह जख्मी हो गया । युवक की हत्या की खबर मिलने के उसके गांव में मातम पसर गया है ।

अमन यादव की हत्या से ग्रामीण मर्माहत है, कारण है कि वह अपने‌ माता पिता का इकलौता पुत्र था, मृतक की माता दोनो पैर से दिव्यांग है। गलत संगत का पता तो सभी‌ को था लेकिन उसकी‌ हत्या हो जाएगी, यह किसी को अंदाजा नहीं था।

 

फूलपुर थाना क्षेत्र के पिंडरा स्थित नेशनल इंटर कॉलेज के सामने सोमवार की शाम पौने पांच बजे बोलेरो सवार बदमाशों ने बाइक सवार दो युवकों के ऊपर गोली चला दी थी। बताते हैं कि दो युवक बाइक से बाबतपुर की तरफ से जौनपुर की तरफ जा रहे थे। तभी पीछे से आई सफेद बोलेरो सवार बदमाशों ने उनको लक्ष्य बनाकर फायर झोंक दिया। जिससे अमन यादव 20 वर्ष निवासी देवकली थाना केराकत को दाहिने जांघ व पीठ में गोली लगी थी वही कृपाशंकर यादव उर्फ गोरख 24 वर्ष निवासी देवकली को दाहिने बाह में गोली लगी थी। गोली लगते ही बाइक सवार सड़क पर गिर पड़े। जिसपर आसपास के लोंगो ने एम्बुलेंस से स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर प्राथमिक उपचार के बाद बीएचयू स्थित ट्रामा सेंटर के लिए भेज दिया था जहाँ अमन की मौत हो गई थी। केराकत थाना क्षेत्र का हिस्ट्रीशीटर व गैंगस्टर कृपाशंकर यादव उर्फ गोरख यादव निवासी देवकली व अमन यादव निवासी देवकली दोनों वाराणसी के बसनी से दवा लेकर बाइक से वापस लौट रहे थे कि बोलेरो सवार बदमाशों ने फायरिंग कर दी। जिसमें अमन यादव मारा गया और गोरख यादव को हाथ में गोली‌ लगी थी। जिसका इलाज चल रहा है। पुलिस उसके पास से तमंचा भी बरामद किया है।

अमन‌ यादव की हत्या से गांव का हर कोई मर्माहत है। घर पर गमगीन महिलाओं की भीड़ है। ग्रामीण अमन‌ की हत्या का जिम्मेदार गोरख यादव को ही ठहरा रहे हैं। हत्या के एक दिन पहले से ही घर पर नहीं था अमन ग्रामीणों का कहना है कि गोरख यादव के घर ही था अमन। पिता अवधेश यादव की माने तो वह अधिकांशतः गोरख यादव के ही घर पर रहता था। पिता की दो सन्तानों में बहन अर्चना यादव उससे बड़ी थी, अमन की गलत सोहबत से ही उसकी पढ़ाई छूट गयी, आठवीं तक पढ़ने के बाद वह अपने पिता के कामों में मदद करता था लेकिन इसी बीच वह गोरख यादव के सम्पर्क में आया और जरायम की दुनियां भाने लगी। हालांकि इस दौरान अमन के पिता अवधेश यादव बार बार गोरख यादव से विनती करते थे कि वह उसका साथ छोड़ दे। लेकिन होनी को‌ कुछ और ही‌ मंजूर था। अमन‌ यादव के खिलाफ कोतवाली में इसी साल थानागद्दी चौकी क्षेत्र से ट्रैक्टर चोरी का एक मुकदमा दर्ज हुआ था। पुलिस ने ट्रैक्टर तो बरामद कर लिया था लेकिन अमन यादव नही मिल रहा था।

 

परिजनों के अनुसार गोरख यादव कई दिनों से बनारस में ही था लेकिन वापस आने के लिए अमन को बुलाया तो अमन गोरख यादव की बिना नम्बर की बाइक लेकर गया, उसके बाद गोरख को वाराणसी से लेकर दवा दिलाने उसके मित्र के रिश्तेदार के अस्पताल गया वहाँ से वापसी के समय गोली लगने से अमन की मौत हो गई।

 

इस बाबत फुलपुर थानाध्यक्ष अभिषेक राय से बात करने पर उन्होंने बताया कि तहरीर के आधार पर चार नामजद के खिलाफ सम्बंधित धाराओ में मुकदमा दर्जकर तलाश की जा रही है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें