यूपी SI भर्ती में धांधली करने वाले सिपाही समेत 8 को किया गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश में नवंबर 2021 में हुई दरोगा भर्ती की लिखित परीक्षा में धांधली का मामला सामने आया है. बरेली (Bareilly) की कोतवाली ने इस मामले में अब तक आठ लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. इस मामले में एक अलीगढ़ (Aligarh) का सिपाही भी गिरफ्तार किया गया है. वहीं अभी इस मामले में कई और लोगों की गिरफ्तारी होना बाकी है. पुलिस ने अभी तक इस मामले में यूपी के अलग-अलग जिलों से 8 लोगों की गिरफ्तारी की है.

 

क्या है मामला?

दरअसल, बरेली में इन दिनों दरोगा भर्ती की फिजिकल, मेडिकल और डॉक्यूमेंट की जांच पड़ताल चल रही है. ऐसे में लखनऊ से जांच में पाया गया कि जिस दौरान ऑनलाइन परीक्षा कराई गई, उस समय आईपी एड्रेस शेयर करके सभी प्रश्नों को बहुत ही कम समय में बहुत से लोगों ने केंद्र व्यवस्थापकों की मिलीभगत से हल कर दिया.

 

मामला पकड़ में आने के बाद जितने लोग लिखित परीक्षा में पास हुए उन सभी को अलग-अलग जिलो में फिजिकल, मेडिकल और डॉक्यूमेंट की जांच पड़ताल के लिए भेजा जा रहा है. लखनऊ से पुलिस अफसरों को जालसाजों की जानकारी दी जा रही है. जिन लोगों ने परीक्षा में धांधली की उन्हें बरेली में जब डॉक्यूमेंट की जांच के लिए भेजा गया. जैसे ही वो लोग पुलिस लाइन पहुचे तो उन्हें गिरफ्तार कर लिया3 मुकदमों में 10 नामजद

बरेली की शहर कोतवाली में इस समय 3 मुकदमे दर्ज करवाये गए हैं. जिसमें 10 लोग नामजद किये गए हैं, जबकि कई अज्ञात हैं. पुलिस इस मामले में शामली, बुलंदशहर, आगरा और मेरठ के 8 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. इस मामले में मेरठ का एक सिपाही भी गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने इस मामले में जिन केंद्रों पर फर्जीवाड़ा हुआ था उनके व्यवस्थापकों को भी आरोपी बनाया है.

 

क्या बोले एसपी?

एसपी क्राइम मुकेश प्रताप सिंह का कहना है कि दरोगा भर्ती मामले में इन दिनों अभिलेखों की जांच पड़ताल चल रही है. जिसका बुधवार को अंतिम दिन है. उसके बाद जो लड़के क्वालीफाई करेंगे उनका फिजिकल होगा, जो पीएसी बटालियन में कराया जाएगा. इसी क्रम में लखनऊ बोर्ड की टीम और टेक्निकल टीम ने कुछ लड़कों को संदिग्ध पाया. जिन्होंने काफी कम समय में ज्यादा प्रश्नों को हल किया था. उनकी वीडियो रिकॉर्डिंग भी है, उसके आधार पर एफआईआर भी हुई है.

 

इसमें जांच के बाद प्रथम दृष्टया 8 लोगों को दोषी पाया गया है और उनको गिरफ्तार कर लिया गया है. आगे जैसे निर्देश मिलेंगे उत्तर प्रदेश भर्ती आयोग द्वारा आगे की कार्रवाई की जाएगी. इसमें टेक्निकल टीम ने जांच की है, यह ऑनलाइन एग्जाम नवंबर 2021 में हुआ था. इसमें 2021 बैच का अलीगढ़ का सिपाही भी शामिल है, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है. गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: