चार विधानसभा चुनावों में मतदाताओं का परिपक्व आदेश आया – क्या जनता जनार्दन ने 2024 हैट्रिक का रास्ता दिखाया ?

 

लोकसभा चुनाव 2024 सेमीफाइनल, चार राज्यों की विधानसभाओं के नतीजे घोषित – दुनियां की नज़र हैट्रिक पर लगी!

चार विधानसभाओं के परिपक्व मतदाताओं ने अपना निर्णय सुनाया – चारों नॉरेटिव को किनारे लगाया – एडवोकेट किशन सनमुखदास भावनानी गोंदिया

गोंदिया – वैश्विक स्तरपर सबसे बड़े लोकतंत्र में 3 दिसंबर 2023 को देर रात्रि तक चली वोटो की गिनती में भारत के लोकतंत्र और परिपक्व मतदाताओं ने अपना बहुमूल्य निर्णय सुना दिया है, बड़े-बड़े नेताओं को किनारे लगा दिया है और उत्तर भारत मेंसत्ताधारी पार्टी को अपने सर आंखों पर बिठाया है तो दक्षिण भारत में उन्हें फिर किनारे लगा दिया है यानी हम लंबे समय से देख रहे हैं कि एक पार्टी उत्तर भारत में तो जीत का परचम लहरा रही है लेकिन लंबे समय की मेहनत के बाद भी दक्षिण भारत पर अपनी शॉप छोड़ने में सफल नहीं हो सकी है और अभी भी उनके हाथ खाली रहे। हालांकि अभी 3 दिसंबर 2023 को घोषित परिणाम में उसे वोट प्रतिशत औरसीट जरूर बड़ी हुई दिखाई दे रही है परंतु सत्ता से पूरी तरह दूर रही है, आने की संभावना दूर-दूर तक नहीं दिख रही है। तेलंगाना कर्नाटक केरल तमिलनाडु सहित अन्य दक्षिण भारतीय राज्यों में दिखाई दे रहा है। हालांकि पार्टी ने हार नहीं मानी है और लगातार प्रयास जारी रखने का निर्णय लेना सराहनीय है परंतु अभी चार राज्यों के नतीजा से सब्सुबाहट शुरू हो गई है कि क्या जनता जनार्दन 2024 लोकसभा चुनाव में हैट्रिक का मन बनाया है? क्योंकि विपक्षी पार्टी के अभी चार नॉरेटिव को जनता ने ज़मीदरोज कर दिया है चार विधानसभा चुनाव प्रचार के समय शब्दों का चयन, पनौती जेबकतरा का असर जनता जनार्दन पर नहीं पड़ा और इन विधानसभा परिणाम की गाज दूर तक जाएगी क्योंकि विपक्षी एलाइंस इंडिया ने आनन फानन में 6 दिसंबर 2023 को बैठक बुलाई है । चूंकि चार राज्यों की विधानसभा चुनाव में जनता जनार्धन ने अब अपना निर्णय सुना दिया है, इसलिए आज हम मीडिया में उपलब्ध जानकारी के सहयोग से आर्टिकल के माध्यम से चर्चा करेंगे लोकसभा चुनाव 2024 सेमीफाइनल के नतीजे घोषित दुनियां की नज़रें हैट्रिक पर लगी।
साथियों बातें कर हम विधानसभा चुनाव परिणाम 3 दिसंबर 2023 की करें तो, पीएम ने कहा इन परिणामों की गूंज दूर तक जाएगी। पूरी दुनिया में इन चुनाव परिणामों की गूंज सुनाई देगी। यह चुनाव परिणाम दुनियाभर के निवेशकों को नया भरोसा देगा। आजादी के अमृतकाल में विकसित भारत को जो सपना हमने देखा है, उसे लगातार जनता का आशीर्वाद मिल रहा है। आज दुनिया देख रही है कि भारत का लोकतंत्र और मतदाता कितने परिपक्व हैं। आज दुनिया देख रही है कि भारत की जनता पूर्ण बहुमत के लिए स्थिर सरकार के लिए सोझ समझकर वोट कर रही है।मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना के नतीजों ने Iआई.एन.डी.आई.ए अलायंस में खलबली मचा दी हेयर बड़ी पार्टी के अध्यक्ष ने आनन-फानन में 6 दिसंबर को मां गठबंधन की मीटिंग बुलाई है। पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में से आज चार राज्यों के नतीजेघोषित हुए हैं। छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान में भाजपा भारी बहुमत के साथ चुनाव जीते है। वहीं, तेलंगाना में कांग्रेस के पक्ष में नतीजे आए हैं। तेलंगाना में भारत राष्ट्रीय समिति को शिकस्त देखनी पड़ रही है। भारत राष्ट्रीय समिति के के चंद्रशेखर राव वाली सरकार के कई बड़े मंत्री भी चुनाव हारते हुए दिखाई दे रहे हैं। तीन राज्यों में मिल रही करारी शिकस्त के बीच से तेलंगाना से कांग्रेस के लिए बड़ी उम्मीद आई है। यही कारण है कि तेलंगाना में कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जबरदस्त उत्साह है। तमाम एग्जिट पोल में भी तेलंगाना में कांग्रेस की सरकार बनती हुई दिखाई दे रही थी और अब नतीजे में भी यही तब्दील होता हुआ दिख रहा है।
साथियों बात अगर हम 3 दिसंबर 2023 देर शाम माननीय पीएम द्वार अपनी पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधन की करें तो, पीएम ने कहा, पार्टी के कार्यकर्ताओं पर जिम्मेदारी और बढ़ गई है।क्योंकि नकारात्मक शक्तियां अब तेजी से एकजुट होने का प्रयास कर रही हैं। समाज में खाई पैदा करने वाले अब नए मौके तलाशेंगे। हमें उनसे मुकाबला भी करना है। उनका जवाब भी देना है। लेकिन उससे भी बढ़कर हमें जनता की रीढ़ को बनाए रखना है।पीएम ने आगे कहा, आज के ये नतीजे उन ताकतों को भी चेतावनी है जो प्रगति और जनकल्याण की राजनीति के खिलाफ खड़े रहते हैं। जब भी विकास होता है, बड़ी पार्टी और उसके साथी विरोध करते हैं। जब हम वंदे भारत लॉन्च करते हैं तोबड़ी पार्टी और उसके साथी मजाक उड़ाते हैं, जब हम गरीबों के लिए घर बनाते हैं तो वे रुकावट डालते हैं, जब हम नल से जल की योजना बनाते हैं तो वे इस पर रोड़ा डालते हैं। ऐसी सभी पार्टियों को आज गरीबों ने चेतावनी दी है। पीएम ने कहा, ऐसे लोग जो भ्रष्टाचार पर कड़ा प्रहार करने वाली जांच एजेंसियों पर प्रहार करने में जुटे हैं, वे समझ लें कि ये चुनाव नतीजे भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई का भी जनसमर्थन है। ये चुनाव नतीजे कांग्रेस और उसके घमंडिया गठबंधन के लिए बड़ा सबक है। ये सबक है कि सिर्फ कुछ परिवारवादियों के मंच पर एक साथ आ जाने से फोटो कितनी अच्छी निकल जाए, देश का भरोसा नहीं जीता। देश की जनता का दिल जीतने के लिए राष्ट्रसेवा का जज्बा होना चाहिए और गठबंधन में वो रत्ती भर भी नजर नहीं आता है। उन्होंने कहा, कुछ लोग तो कह रहे हैं कि आज की इस हैट्रिक ने 2024 की हैट्रिक की गारंटी दे दी है। आज के जनादेश ने यह भी साबित किया है कि भ्रष्टाचार, तुष्टिकरण और परिवारवाद को लेकर देश के भीतर, देश के हर नागरिक के दिल में जीरो टॉलरेंस बन रही है। आज देश को लगता है कि इन तीन बुराइयों को खत्म करने में अगर कोई प्रभावी है, तो पार्टी ही है। पार्टी की केंद्र सरकार ने देश में भ्रष्टाचार के विरुद्ध जो अभियान छेड़ रखा है, उसको भारी जनसमर्थन मिल रहा है। यह उन दलों, नेताओं को मतदाता की साफ-साफ चेतावनी है, जो भ्रष्टाचारियों के साथ खड़े होने में जरा भी शर्म महसूस नहीं करते। उन लोगों को आज देश की जनता ने साफ-साफ संदेश दे दिया है। पीएम ने कहा, पार्टी ने सेवा और सुशासन की राजनीति का नया मॉडल देश के सामने पेश किया है। हमारी नीति और निर्णयों के मूल में देश और देशवासी हैं। इसलिए हमारी सरकारें सिर्फ नीतियां नहीं बनाती, बल्कि हर हकदार हर लाभार्थी तक वह पहुंचे, यह भी सुनिश्चित करती है। पार्टी परफॉर्मेंस और डिलीवरी की राजनीति देश के सामने लेकर आई है। भारत का मतदाता जानता है कि स्वार्थ क्या है, जनहित और राष्ट्रहित क्या है। दूध और पानी का भेदभाव देश जानता है। जैसे-तैसे जीतने के लिए हवा-हवाई बातें करना और लोभ लालच की घोषणा करना, यह मतदाता को पसंद नहीं आता है। मतदाता को उसका जीवन बेहतर करने के लिए एक स्पष्ट रोडमैप चाहिए। एक भरोसा चाहिए। भारत का वोटर यह जानता है जब भारत आगे बढ़ता है तो राज्य आगे बढ़ता है। हर परिवार का जीवन बेहतर होता है। इसलिए वह भाजपा को चुन रहा है। लगातार चुन रहा है।
अतः अगर हम उपरोक्त पूरे विवरण का अध्ययन कर इसका विशेषण करें तो हम पाएंगे कि चार विधानसभा चुनावों में मतदाताओं का परिपक्व आदेश आया – क्या जनता जनार्दन ने 2024 हैट्रिक का रास्ता दिखाया ? लोकसभा चुनाव 2024 सेमीफाइनल, चार राज्यों की विधानसभाओं के नतीजे घोषित – दुनियां की नज़र हैट्रिक पर लगी! चार विधानसभाओं के परिपक्व मतदाताओं ने अपना निर्णय सुनाया।

*-संकलनकर्ता लेखक – कर विशेषज्ञ स्तंभकार एडवोकेट किशन सनमुखदास भावनानी गोंदिया महाराष्ट्र*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: