छात्र उपस्थिति बनी शिक्षकों का सिर दर्द

 

विष्णु सिकरवार
आगरा। यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन यूटा आगरा के जिलाध्यक्ष केशव दीक्षित एवम जिला महामंत्री राजीव वर्मा ने बताया कि शिक्षकों का कहना है कि छात्रों की उपस्थिति बढ़ाने के लिए शिक्षक लगातार प्रयास कर रहे हैं। लेकिन अभिभावक बच्चों को स्कूल न भेजकर घरेलू काम कराते हैं। जिससे छात्रों की उपस्थिति नहीं बढ़ रही है। सरकार की ओर से यूनिफार्म के लिए अभिभावकों के खाते में 1200 रुपये धनराशि भेजी जाती है, लेकिन अभिभावक यूनिफार्म नहीं बनवाते हैं। इसका जिम्मेदार शिक्षकों को ठहराते हुए वेतन रोकने आदि की धमकी देकर शिक्षकों का लगातार उत्पीड़न हो रहा है। शिक्षण कार्य के अतिरिक्त डीबीटी, यू डाइस कोड, रीड अलांग, प्रेरणा एप, बीएलओ का काम, निपुण, सरल, दीक्षा, समर्थ एप ,जीपीएस फोटो, फल वितरण, दूध वितरण आदि फोटो अपलोड करने, संकुल पर डीसीएफ भरना, परिवार सर्वेक्षण, बाल गणना, शारदा, मानव संपदा सहित तमाम कार्य लिए जा रहे हैं। इन सभी के लिए सरकार न तो मोबाइल देती है और न ही डाटा के लिए धन उपलब्ध कराती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: