बिजली की आंख मिचौली से क्षेत्र में पेय जल संकट हो रहा उत्पन्न 


मिश्रित सीतापुर / विद्युत उपकेन्द्र मिश्रित में तैनात जेई समित कुमार की मनमानी के चलते क्षेत्र में अघोषित विद्युत कटौती उपभोक्ता परेसान चल रहे है । जब कि प्रदेश के मुख्य मंत्री ने शहरी क्षेत्रों में 21 घंटे व ग्रामीण क्षेत्रों में 18 घंटे निर्बाध विद्युत आपूर्ति करने के आदेश दिए है । लेकिन अघोषित विद्युत कटौती के चलते शहरी क्षेत्रों के उपभोक्ताओं को थोडा बहुत विद्युत आपूर्ति मिल रही है । परन्तु ग्रामीण इलाकों में नाम मात्र की बिजली आपूर्ति की जा रही है । प्रत्येक दस मिनट पर ट्रिपिंग के चलते जहां इनवर्टर तक चार्ज नही हो पा रहे है । वहीं लोगों के विद्युत उपकरण भी खराब हो रहे है । तेज हवा चलने से आपात कटौती तो कहीं लोकल फाल्ट की समस्या बताकर अघोषित विद्युत कटौती प्रति दिन की जा रही है । आपको बता दे विद्युत उपकेन्द्र मिश्रित से कस्बा मिश्रित फीडर , फूलपुर झरिया , रामकोट , कुतुबनगर , मछरेहटा सहित पांच फीडरों के लग भग एक लाख विद्युत उपभोक्ता प्रभावित हो रहे है । अघोषित विद्युत कटौती और लो वोल्टेज व ट्रिपिंग के चलते किसानों की धान रोपाई नही हो पा रही है । बिना पानी के गन्ने की फसले सूख रही है । जिससे ग्रामीण लोगों में काफी आक्रोष ब्याप्त है । यहां के सभी विद्युत उपभोक्ताओं ने जिलाधिकारी का ध्यान इस ओर आकर्शित कराते प्रदेश शासन के मंशानुरूप विद्युत ब्यवस्था सीघ्र दुरुस्त कराए जाने की मांग की है ।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें