आसानी चक्रवाती तूफ़ान ने पकड़ी रफ्तार,इन जगहों पर हो सकती है भारी बारिश

बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान ‘असानी’ (Asani Cyclone) रफ्तार पकड़ता हुआ आगे बढ़ रहा है. पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी में असानी के तेज रफ्तार पकड़ने पर भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने संभावना जताई है कि मंगलवार यानी 10 मई को ‘असानी’ के उत्तर आंध्र-ओडिशा तटों से पश्चिम-मध्य उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में पहुंचने पर, उत्तर-पूर्व की ओर मुड़ सकती है.

फिलहाल, 16 किमी प्रति घंटे की गति के साथ यह तूफान पश्चिम मध्य उससे सटे दक्षिण बंगाल की खाड़ी के ऊपर उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ गया है. अगले 24 घंटों के दौरान चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है. इस दौरान बंगाल के साथ-साथ उत्तर आंध्र प्रदेश ओडिशा के तटों पर बारिश के साथ तेज हवाएं देखने को मिलेंगी.

IMD के मुताबिक, चक्रवात असानी का असर पोर्ट ब्लेयर, विशाखापत्तनम पुरी में देखने को मिल सकता है. Cyclone Asani की वजह से ओडिशा, पश्चिम बंगाल आंध्र प्रदेश में तेज हवाएं चलने के साथ बारिश की गतिविधियां तेज होंगी. मौसम विज्ञान विभाग ने जानकारी दी कि कोलकाता में बारिश की गतिविधियां शुरू हो गई हैं. असानी तूफान के कारण 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने बारिश होने की उम्मीद है. हालांकि, अभी से ही इसका असर दिखना शुरू हो गया है. ओडिसा के गंजम जिले में इस तूफान 9 लोग फंस गए थे, जिन्हें रेस्कयू ऑपरेशन चलाकर बचाया गया.ओडिशा के विशेष राहत आयुक्त पीके जेना के मुताबिक, चक्रवात ‘आसनी’ वर्तमान में दक्षिण पूर्व अंडमान में है, जो उत्तर पश्चिम दिशा में आगे बढ़ रहा है. 10 मई तक इसी दिशा में ओडिशा के समानांतर आगे बढ़ेगा. जो 11 मई की शाम तक पुरी के दक्षिण में पहुंचेगा. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने बचाव अभियान के लिए पर्याप्त व्यवस्था की है. उन्होंने कहा, कि राज्य में तूफान का कोई बड़ा खतरा दिखाई नहीं दे रहा है, क्योंकि यह पुरी के पास तट से करीब 100 किलोमीटर दूर से गुजर जाएगा. हालांकि, राष्ट्रीय आपदा प्रक्रिया बल (NDRF) किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं.

मौसम विभाग के मुताबिक, चक्रवात असानी के 10 मई तक उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने उत्तर आंध्र प्रदेश ओडिशा तटों से पश्चिम-मध्य उससे सटे उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी तक पहुंचने की संभावना है. इसके बाद, असानी उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर मुड़ सकता है ओडिशा तट से दूर बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी की ओर बढ़ सकता है. माना जा रहा है कि असानी की तीव्रता अगले 36 घंटों के दौरान धीरे-धीरे कमजोर होगी.

बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना चक्रवाती तूफान ‘असानी’ सोमवार को 25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तटीय आंध्र प्रदेश ओडिशा की ओर बढ़ रहा है. चक्रवात के मद्देनजर IMD ने भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. साथ ही मछुआरों को समंदर किनारे ना जाने की सलाह दी गई है. 10 11 मई को तटीय ओडिशा में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश की आशंका को देखते हुए सभी बंदरगाहों पर अलर्ट जारी किया गया है. हालांकि, अगले दो दिनों में इसके धीरे-धीरे कमजोर होने की उम्मीद है.

चक्रवाती तूफान असानी का असर ओडिशा के अलावा बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, आंध्र प्रदेश समेत कई राज्यों में देखने को मिल सकता है. इस दौरान कई इलाकों में भारी बारिश होने के आसार हैं. मौसम विभाग ने इन राज्यों के लिए भी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है. वहीं, आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने कहा कि चक्रवात पूर्वी तट के समानांतर चलेगा. इसके प्रभाव से तेज हवाएं चलेंगी बारिश होगी. माना जा रहा है कि यह चक्र

Leave a Reply

Your email address will not be published.

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: