मिश्रित ब्लाक में तैनात जेई आर एस बने भ्रष्टाचार का पर्याय ।

 

मिश्रित सीतापुर / विकासखंड मिश्रित में तैनात के जेई आर एस ललित वर्मा मिश्रित ब्लाक में भ्रष्टाचार का पर्याय बने हुए है । सूत्रों की माने तो जेई साहब मनरेगा सहित प्रत्येक कार्यों की फाइलों में एमबी करने के नाम पर ग्राम प्रधानों से तीन से पांच प्रतिशत तक सुविधा शुल्क वसूलने का कार्य कर रहे हैं । उनको सुविधा शुल्क न मिलने पर वह कार्य कितना भी सही हो लेकिन वह उस कार्य की एमवी नहीं करते हैं । सूत्र बताते हैं । कि प्रत्येक फाइल पर तीन से पांच प्रतिशत तक शुविधा शुल्क लेकर एमवी करते है । उनके व्दारा एक त्रिभुवन नामक ब्यक्ति को प्राइवेट रूप से लगाया गया है । जिससे शुविधा शुल्क की वसूली यहीं ब्यक्ति करता है । सूत्रों की माने तो जेई साहब इसको कोई सैलरी नही देते है । वह इस सुविधा शुल्क से ही अपना काम चलाता है । अब सवाल यह उठता है। कि इतना सुबिधा शुल्क देकर ग्राम प्रधान कहां से विकास कार्य करा पाएगे सबसे बडा़ सवाल बना हुआ है । मांमले की जिला प्रशासन और प्रदेश शासन को गंभीरता से जांच कराकर कार्यवाही करने की आवश्यकता हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: