वायु प्रदुषण का मुख्य स्त्रोत बना,जूते कतरन की अलाप

 

शहर में जूता की कतरन जगह जगह जलाने से भारी मात्रा में प्रदूषण बढ़ रहा,प्रशासन मौन

विष्णु सिकरवार
आगरा। नगर निगम आगरा व प्रशासन की लापरवाही से शहर भर में भारी मात्रा में प्रदूषण फैल रहा है। समाज में एक ओर कूड़े के ढेर की आग से परेशान थे तो अब सर्दियों में छोटी-छोटी बस्तियों के अंदर जूते के कारखाने से निकलने वाली जूते की कतरन को जलाकर हाथ तापना शुरू हो गया है। हर रोज सुबह-सुबह लोग रोड़ के किनारे एवं गलियों के बाहर जूते की कतरन को इकट्ठा करके जलाते हैं। जिससे क्षेत्र के अंदर निकालना मुश्किल हो जाता है। आने जाने वाले एवं सुबह टहलने वालों की आंखें जलती हैं और सांस लेने में कठिनाई होती है। हालांकि प्रशासन ने अभी इसकी रोकथाम के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया और यह भी तय है कि यदि इस जूते की कतरन में आग लगाने को रोका नहीं गया तो वायु प्रदूषण के कारण क्षेत्र में रहने वाले लोगों को भारी नुकसान उठाना पड़ेगा।
थाना रकाबगंज के अन्तर्गत ईदगाह कुतलूपुर ईदगाह मस्जिद के सामने हर रोज कूड़े के ढेर में पड़ी हुई जूते की कतरन को जलाया जाता है और उसके नजदीक लोग खड़े होकर हाथ तापते है। आस पास के लोगों ने पूर्व में डायल 112 पर पुलिस को सूचना देकर इसकी शिकायत की है लेकिन शिकायत पर कार्यवाही खानापूर्ति मात्र रह जाती है।
आगरा प्रशासन को जल्दी ही इस और ध्यान देना होगा नहीं इस धुंआ से लोगों का जीना दूभर हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार,नैमिष टुडे न्यूज़पेपर में आपका स्वागत है,यहाँ आपको हमेसा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे 9415969423 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें
%d bloggers like this: